Computer Codes क्या हैं? [ Types of Computer Codes in Hindi ]

Computer Codes क्या हैं? [ Types of Computer Codes in Hindi ]


Computer Codes क्या हैं? 

कंप्यूटर में एंट्री किए जाने वाले असंख्यात्मक data को दर्शाने व उस पर प्रोसेसिंग करने के लिए coding system का प्रयोग किया जाता है। यहां असंख्यात्मक data का अर्थ ऐसा data से है जिस पर कोई गणितीय कार्य नहीं करना होता है जैसे अक्षर व अक्षर से बनने वाले शब्द, नाम, मोबाइल नंबर, पता आदि चूँकि कंप्यूटर बायनरी में कार्य कर सकता है। अतः यह हमारे द्वारा एंट्री किए गए सभी असंख्यात्मक data को भी पहले बायनरी में परिवर्तित करता है। कंप्यूटर इसके लिए किसी coding system का प्रयोग करता है जिसमें प्रत्येक अक्षर (A-Z), अंक (0-9), व विशेष चिन्ह (+ - * / @ # & etc.) के लिए एक अद्वितीय बायनरी कोड होता है।

Computer Codes क्या हैं?

Computer codes एक प्रकार से एक computer program को बनाने वाले निर्देशों का ग्रुप होता हैं। जिसे computer की सहायता पढ़ा जा सकता है। computer द्वारा सीधे मशीन कोड निर्देशों को ही पढ़ा सकता है ये instruction का सेट होता है जिसे मनुष्य द्वारा पढ़ना मुश्किल होता है। कोडिंग सिस्टम (coding system) निम्न प्रकार के होते हैं।

Types of Computer coding system (कंप्यूटर कोडिंग सिस्टम के प्रकार):

  1. Binary Coded Decimal (BCD)
  2. American Standard Code for Information Interchange (ASCII)
  3. Extended Binary Coded Decimal Interchange Code (EBCDIC)


Binary Coded Decimal (BCD)

बाइनरी कोडेड डेसिमल कोडिंग सिस्टम में प्रत्येक दशमलव अंक को 4 binary अंको से व्यक्त किया जाता है। इसमें प्रत्येक दशमलव अंक के लिए एक अद्वितीय 4 अंकीय बायनरी कोर्ट होता है। अतः संपूर्ण Decimal Number को Binary में बदलने के बजाय Decimal Number के प्रत्येक अंग को उसके चार अंकी Binary तुल्यांक से प्रतिस्थापित कर दिया जाता है। इसे 4 bit BCD code कहां जाता है 0 से 9 तक के अंको के लिए BCD कोड निम्नलिखित हैं:

दशमलव अंक          BCD कोड 
0               -            0000
1               -            0001
2               -            0010
3               -            0011
4               -            0100
5               -             0101
6               -             0110
7              -              0111
8              -              1000
9              -              1001

उदाहरण के लिए हम BCD में 285 को 001010000101 लिखते हैं।


American Standard Code for Information Interchange (ASCII)

ASCII सबसे लोकप्रिय Coding system है जिसका प्रारंभ ANSI - American national standards institute ने 1963 में किया था। इसमें की-बोर्ड में प्रयुक्त प्रत्येक अक्षर को 7 bit के अद्वितीय कोड से निरूपित किया जाता है। आज लगभग सभी कंपनियों के कंप्यूटर में अक्षरों को दर्शाने के लिए ASCII कोड का ही प्रयोग किया जाता है। ASCII कोड में 2 भाग होते हैं इसमें left side के भाग को zone कहते हैं जो 3 bit का होता है तथा right side के भाग को digit कहते हैं जो 4 bit का होता है।

American Standard Code for Information Interchange (ASCII)
उदाहरण:
(A)  ASCII में 652 को 011011001101010110010  लिखते है।
(B) ASCII में CTECH को 10000011010100100010110000111001000 लिखते है।


Extended Binary Coded Decimal Interchange code (EBCDIC)

EBCDIC कोडिंग भी ASCII के जैसा ही होता है। किंतु इसमें अक्षरों को 8 bit के अद्वितीय बायनरी कोर्ट से निरूपित किया जाता है EBCDIC कोडिंग में भी 2 भाग होते हैं। इसमें zone और digit दोनों 4-4 bit के होते हैं। EBCDIC कोडिंग का प्रयोग मुख्यतः Mainframe और super जैसे बड़े कंप्यूटरों में किया जाता हैं।


इस आर्टिकल के माध्यम से हमने सीखा कंप्यूटर कोड्स क्या है और साथ ही चित्रों के माध्यम से जानकारिया ली।और इसके साथ ही कंप्यूटर कोडिंग सिस्टम कितने प्रकार है इसके बारे में जाना और इसके साथ ही ASCII और EBCDIC  के बारे में भी जानकारिया ली ये जानकारिया अच्छी लगी तो कमेंट करके जरूर बताये।

Computer Codes क्या हैं? [ Types of Computer Codes in Hindi ]

Post a Comment

0 Comments