Array क्या हैं ? [Types of Array in Hindi]

Array क्या हैं ? [Types of Array in Hindi]


Array क्या है?

Array एक ऐसे data structure है जिसके एक variable में एक ही समय में एक समान data type के एक से अधिक data items store किए जा सकते हैं। इसमें store सभी data items का एक ही नाम होता है लेकिन उनका index अलग-अलग होता है जिसकी सहायता से ही हम array के सभी data items को access करते हैं। 

उदाहरण: यदि किसी collage में 1000 विद्यार्थी हो और हमें सभी विद्यार्थियों के रोल नंबर्स को store करने के लिए एक program लिखना हो तो यह दो तरीके से हो सकता है। 

पहला तरीका तो यह है कि हम इनमे से प्रत्येक विद्यार्थी के लिए अलग-अलग variable बनाए और रोल नंबर्स को स्टोर करे लेकिन यह तरीका उतना प्रभावशाली नही होगा क्योंकि इसके लिए पहले तो हमें 1000 variables बनाने की जरूरत पड़ेगी जिसमें बहुत समय लगेगा। और यदि हम किसी तरह 1000 variable बना भी ले तो भी इसमें सभी विद्यार्थियों के रोल नंबर्स को input एवं output कराने के लिए हमें प्रत्येक विद्यार्थी के लिए अलग-अलग code लिखने की जरूरत पड़ेगी। 

इस तरह कुल मिलाकर सामान्य variable से 1000 विद्यार्थियों को रोल नंबर्स को store करा पाना हमारे लिए असंभव होगा। अतः इस समस्या के समाधान के लिए हम एक array type का variable A[1000] बनाएंगे जिसमें एक ही variable में सभी विद्यार्थियों के रोल नंबरो को एक लूप का प्रयोग करके आसानी से input एवं output कराया जा सकता है। 

Array क्या है

Array के प्रकार [Types of  Array in Hindi]:

Array निम्नलिखित 3 प्रकार के होते हैं:
  • One Dimensional Array
  • Two Dimensional Array
  • Multi Dimensional Array

One Dimensional Array क्या हैं?

इस प्रकार के array में row या column में data को store किया जाता है इसलिए इसे one dimensional array या linear array कहते हैं। इसमे single subscript (index) का प्रयोग किया जाता है इसलिए इसे single sub-scripted variable भी कहते हैं।

उदाहरण: माना A एक one dimensional array है जिसका subscript/index (i), word length (w) है तथा इसमें M elements store है। तब हम निम्नलिखित प्रकार से प्रदर्शित करेंगे- A[M]
जहाँ,
A       -    Name of array variable
M      -    Size/length of array
A[j]   -    ith element of array
W      -    word length (Number of bytes                
               occupied by each element)

Representation of One Dimensional Array in Memory:

माना A एक one dimensional array है जिसमें 5 elements store है जिनका subscript/index (i) क्रमशः 1, 2, 3, 4, 5 व word length (w) 1 byte है तब इसे सामान्य रूप से A[5] से एवं memory में निम्नलिखित दो प्रकारों से row wise या column wise प्रदर्शित किया जा सकता है:

Representation of One Dimensional Array in memory
जहाँ,
  • A is name of array variable.
  • 1,2,3,4,5 are index.
  • 1001, 1002, 1003, 1004, 1005 are memory addresses of memory locations.
  • 50, 30, 90, 60, 20 are elements.
  • First index 1 is called lower bound (LB) of array
  • Last index 5 is called the upper bound (UB) of array
  • Address of first element A[1] that is 1001 is called base address (BA) of array

Calculation of Total Elements in One Dimensional Array:

यदि हमें किसी one-dimensional array का lower bound (LB) तथा upper bound (UB) ज्ञात हैं तो इसमें elements की कुल संख्या निम्नलिखित सूत्र से ज्ञात किया जा सकता है: (UB-LB+1)

ऊपर दिए गए array में lower bound 1 तथा upper bound 5 है। अतः total elements = (5-1+1) = 5


Two Dimensional Array क्या हैं?

इस प्रकार के array में row और column दोनों में data को store किया जाता है इसलिए इसे two dimensional array कहते हैं। इसमें double subscript (index) का प्रयोग किया जाता है इसलिए इसे double sub-scripted variable भी कहते हैं। Two dimensional array को गणित में matrix एवं software में table कहते हैं।

उदाहरण: माना A एक two dimensional array है जिसका subscript/index (i, j), word length (w) है तथा इसमें M×N elements store है। तब हम इसे निम्नलिखित प्रकार से प्रदर्शित करेंगे- A[M, N]

जहाँ, 

A        -   Name of array variable
M       -   Row's size/length of array
M*N  -   Size/length of array
A[i,j]  -   [i,j]th  element of array
w        -   word length (Number of bytes 
               occupied by each elements)

पुनः माना two dimensional array A में 3 row और 4 column है। Rows का index क्रमशः 1,2,3 तथा columns का index क्रमशः 1,2,3,4 है। तब इसे एक matrix में निम्नलिखित प्रकार से प्रदर्शित कर सकते है-

Two Dimensional Array

Representation of Two Dimensional Array in memory:

Two dimensional array के elements को एक matrix के रूप में प्रदर्शित कियक जा सकता है लेकिन इसके element भी memory में किसी one dimensional array के elements की तरह एक line या sequence में ही store होते हैं। इनके memory में store होने का तरीका programming language पर निर्भर करता है। programming language इसे memory में दो प्रकार से row wise अथवा column wise store किया जा सकता है। किसी two dimensional array को memory में row wise store किया जाता है तो इसे row-major-order एवं column wise store किया जाता है तो इसे column-major-order कहते हैं।

माना A एक two dimensional array है जिसमें 3×4 element store है जिनका पहला subscript/index (i) क्रमशः 1,2,3 व दूसरा subscript/index (j) क्रमशः 1,2,3,4 तथा word length (w) 1 byte है। तब इसे सामान्य रूप से A[3,4] से एवं memory में निम्नलिखित दो प्रकार से row-major-order या column-major-order में प्रदर्शित किया जा सकता है-

Representation of Two Dimensional Array in memory

जहाँ,

  • A is name of array variable
  • 1,2,3 are row's subscript/index (LB=1, UB=3)
  • 1,2,3,4 are column's subscript/index (LB=1, UB=4)
  • 1001............1012 are memory addresses of memory location
  • 10..............120 are element
  • Address of fist element A[1,1] that is 1001 is called base address (BA) of array


Calculation of Total Element in Two Dimensional Array:

यदि हमें किसी two dimensional array के row एवं column के lower bound (LB) तथा upper bound (UB) ज्ञात है तो इसमें element की कुल संख्या निम्नलिखित सूत्र से ज्ञात किया जा सकता है-

(UBr-LBr+1)*(UBc-LBc+1)

ऊपर दिए गए array में row का lower bound 1 और upper bound 3 है। इसी प्रकार column का lower bound 1 और upper bound 4 है। अतः total elements = (3+1-1)*(4+1-1) = 12


Multi Dimensional Array क्या हैं?

इस प्रकार के array में दो से अधिक subscript का प्रयोग किया जाता है इसलिए इसे multi dimensional array कहते हैं।

उदाहरण: माना A एक multi dimensional array है जिसका subscript/index ( i, j, k ), word length (w) है तथा इसमें L×M×N elements store है। तब हम इसे निम्नलिखित प्रकार से प्रदर्शित करेंगे- A[L,M,N]


Application of Arrays in Hindi:

Array एक महत्वपूर्ण एवं उपयोगी data structure होता है इसका उपयोग निम्नलिखित कार्यो के लिए किया जाता है:

1. Storing Similar Data

One dimensional array का उपयोग एक समान data items को बड़ी संख्या में store करने संबंधी समस्या को हल करने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए collage के सभी विद्यार्थियों के रोल नंबर्स को एक array में store करके रख सकते हैं।

2. Handling Strings

One dimensional array का उपयोग characters के group को store करने के लिए किया जाता जिसे string कहते हैं। इसकी सहायता से किसी व्यक्ति का पहचान, नाम, पता, आदि को store किया जाता है।

3. Creating Table 

Two dimensional array का उपयोग table को बनाने के लिए किया जाता है जो rows और columns से मिलकर बना होता है। इसकी सहायता से spreadsheet software बनाए जाते हैं।

4. Manipulating Matrix

Two dimensional array का उपयोग matrix का बनाने के लिए किया जाता है जो rows और columns से मिलकर बना होता है। इसकी सहायता से किन्ही दो matrix का योग, गुणनफल और ट्रांस्पोज़ ज्ञात किया जाता है।

5. Creating Stack

Stack एक ऐसे data structure है जिसमें जिस ओर से data को insert किया जाता है उसी ओर से ही उसे delete भी किया जाता है। इसका प्रयोग गणितीय equations एवं expressions को हल करने के लिए किया जाता है। Linear array की सहायता से stack तैयार कर सकते हैं।

6. Creating Queue

Queue एक ऐसा data structure है जिसमें एक ओर से data को insert एवं दूसरे ओर से उसे delete किया जाता है। इसका प्रयोग processor के लिए process scheduling में किया जाता है। Linear array की सहायता से queue तैयार कर सकते हैं।


Array और Linked Lists में अंतर:

Array

Linked List

(1) Array के elements के मध्य linear relation memory location की सहायता से दिया जाता है। (1) Linked List के nodes के मध्य linear relation pointer की सहायता से दिया जाता है।
(2) Array में element का index होता है। (2) Linked List में nodes का index नही होता है।
(3) Array के किसी भी element को direct access किया जा सकता है। (3) Linked List के किसी भी nodes को direct access नही किया जा सकता है।
(4) Array के element successive या consecutive memory location में store होता है। (4) Linked List के nodes successive या consecutive memory location में store नहीं होता है।
(5) Array का size पहले से ही fix होता है जिसे run time में परिवर्तित नही किया जा सकता है। इसमें static memory allocation होता है। (5) Linked List का size पहले से ही fix नहीं होता है जिसे run time में आवश्यकता के अनुशार परिवर्तित किया जा सकता है। इसमें dynamic memory allocation होता है।
(6) Array में insertion एवं deletion करने के लिए बहुत अधिक elements को move करना पड़ता है जिससे समय खर्च होता है। (6) Linked List में insertion एवं deletion करने के लिए बहुत अधिक node को move करना नहीं पड़ता है जिससे समय की बचत होती है।
(7) Array में elements को store करने के लिए कोई अतिरिक्त memory आवश्यकता नही होती है। (7) Linked List में प्रत्येक nodes को store करने के लिए कोई अतिरिक्त memory आवश्यकता होती है।


What is Array in Hindi [Types of Array]


हमने इस ब्लाक के माध्यम से क्या सींखा:
  • Array क्या है?
  • Types of Array: One-dimensional array, Two-dimensional array, Multi dimensional array.
  • Representation of One Dimensional Array in Memory:
  • Calculation of Total Element in One Dimensional Array:
  • Representation of Two Dimensional Array in Memory:
  • Calculation of Total Element in Two Dimensional Array:
  • Application of Array:

Friends मुझे पूरी उम्मीद है कि ये पोस्ट आपको जरूर पसंद आई होगी और मुझे खुसी है कि मैं आपके लिए कुछ का जानकारी इस ब्लॉग के माध्यम से दे सका और इसी प्रकार किसी बारे में जानकारियां प्राप्त करना हैं तो इसके लिए आप comment box के माध्यम से दे सकते हैं Post अच्छी लगी तो इसे दोस्तो के Share जरूर करें धन्यवाद।

Post a Comment

1 Comments

  1. Excellent post. You have shared some wonderful tips. I completely agree with you that it is important for any blogger to help their visitors. Once your visitors find value in your content, they will come back for more What is Java And its profit



    ReplyDelete